बीज मिनीकिट

 
                                                                                                        बीज मिनिकिट
(1) बीज मिनिकिट का उद्देश्य :-
 
• फसल विशेष की नवीनतम उन्नत किस्मों को कृषकों के मध्य प्रचलित करने तथा उसके उपयोग को बढावा देने हेतु बीज मिनिकिटों का वितरण किया जाता है। 
 
(2) बीज मिनिकिटों हेतु पात्रता एवं कृषक चयनः-
 
• मिनिकिट वितरण प्राथमिकता के आधार पर अनुसूचित जाति,  अनुसूचित जनजाति, लघु एवं सीमान्त तथा गरीबी की रेखा के नीचे जीवनयापन करने वाले तथा अन्त्योदय परिवारांएवं गैर-खातेदार/खातेदार कृषकों को प्राथमिकता से मिनिकिट की कीमत का 10 प्रतिशत टोकन राशि वसूल करते हुए वितरण किये जाते हैं। 
 
• मिनिकिट महिला के नाम से दिये जाने है, चाहे भूमि महिला के पति/पिता/ससुर के नाम से हो। एक महिला को मिनिकिट का एक ही पैकेट दिये जाते है।
 
• चयन हेतु महिला कृषकों के पास सिंचाई साधन उपलब्ध होना आवश्यक है। पात्र महिला कृषकों की सूची कृषि पर्यवेक्षक द्वारा संबंधित ग्राम पंचायत के सरपंच एवं अन्य निर्वाचित जन प्रतिनिधियों के साथ विचार विमर्ष कर बनायी जाती है।
 
(3) विभिन्न योजनान्तर्गत बीज मिनिकिटों का आयोजन :-
 
• राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन-तिलहन अन्तर्गत सोयाबीन व सरसों, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन-तिलहन के अन्तर्गत उडद व मूंग तथा राज्य योजनान्तर्गत तिल, मोठ व अरहर के बीज मिनिकिट किटों का वितरण किया जाता है।